Search
Close this search box.

हल्द्वानी : कल दिनभर जान जीवन रहा अस्तव्यस्त, दर्जानो परिवार हुए शिफ्ट, 8 JCB लगी रही

1003321408-1024x485.jpg

न्यूज शेयर करें :

हमें फॉलो करें :

हल्द्वानी/लालकुआं: भारी बारिश और जलभराव की स्थिति से निपटने के लिए जिलाधिकारी वंदना सिंह के निर्देश पर उप जिलाधिकारी ने राजस्व विभाग और लोक निर्माण विभाग व अन्य विभागों की टीम के साथ सोमवार को दिनभर एक दर्जन से अधिक प्रभावित स्थानों का निरीक्षण किया और जल निकासी के लिए दो पोकलैंड और 6 जेसीबी से कार्य शुरू कराया तथा बिन्दुखत्ता और लालकुआं के कई परिवारों को राहत शिविरों में पहुंचाया।

सोमवार को भारी बारिश के बीच उप जिलाधिकारी परितोष वर्मा ने अपनी टीम के साथ तीन पानी, जयपुर खीमा, हरिपुर पूर्णानंद, लालकुआं, रेलवे स्टेशन क्षेत्र खड्डी मोहल्ला, दो किमी, पश्चिमी घोड़ानाला, शास्त्री नगर, 17 एकड़, इंदिरानगर व रावत नगर शीशमणी समेत विभिन्न जलभराव व भू-कटान स्थलों का स्थलीय निरीक्षण किया और पानी की निकासी कराई।

उप जिलाधिकारी परितोष वर्मा ने बताया कि जयपुर खेमा में जमरानी फीडर को खोलने व सफाई के लिए दो पोकलैंड व दो जेसीबी लगाई गई हैं। इसके अलावा नहर की सफाई व प्रवाह में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए लालकुआं से हल्दूचौड़ के बीच विभिन्न स्थानों पर चार अतिरिक्त जेसीबी मशीनें लगाई गईं। जिससे पानी की निकासी शीघ्र करने का प्रयास किया गया। इसके अलावा लालकुआं, खड्डी मोहल्ला व दो किमी क्षेत्र से एक दर्जन परिवारों को बारात घर लालकुआं में शिफ्ट किया गया है। इसके अलावा शास्त्रीनगर से दो परिवारों को शिफ्ट किया गया। साथ ही रावत नगर शीशमणी क्षेत्र जहां गौला नदी का भू कटाव हो रहा है, का स्थलीय निरीक्षण करते हुए खतरे की जद में आ रहे दो परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया। वहीं इंदिरा नगर क्षेत्र में तटबंध व गौला के प्रवाह क्षेत्र का भी स्थलीय निरीक्षण किया गया। उप जिलाधिकारी ने बताया कि राजस्व विभाग की टीम को तत्काल प्रभावित परिवारों के नुकसान का आकलन करने के निर्देश दिए गए हैं ताकि उन्हें अहेतुक सहायता दी जा सके। उपजिला अधिकारी ने बताया कि पिछले सप्ताह से हो रही बारिश से हुए नुकसान के लिए 130 से अधिक लोगों को राहत राशि वितरित की जा चुकी है। तथा प्रभावित परिवारों में नुकसान का आंकलन अभी भी जारी है। इसके अलावा चोरगलिया में भी नुकसान का आंकलन करने के निर्देश राजस्व विभाग की टीम को दिए गए हैं।

Leave a Comment